‘यूपी वासियों’ ने ‘नैना देवी’ से लगायी उत्तराखंड…

जी हाँ, यूपी के रामपुर जनपद के अंतर्गत आने वाले क्षेत्रवासियों ने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री के साथ ही उत्तराखंड की राज्य देवी कही जाने वाली 'नैना (नयना) देवी' से स्वयं को उत्तराखंड में शामिल करने की…

देश की 196 भाषाओं के साथ कुमाउनीं व…

हिमालयी राज्यों की भाषाओं को है अधिक खतरा यूनेस्को ने उत्तराखण्ड की 'रांग्पो' को भेद्य तथा 'दारमा' व 'ब्योंग्सी' को निश्चित व 'वांगनी' को अति गम्भीर खतरे में माना नवीन जोशी, नैनीताल। भाषाओं को न केवल संवाद…

उत्तराखण्ड की पत्रकारिता का इतिहास

[caption id="attachment_5704" align="alignnone" width="227"] उत्तराखण्ड का प्रथम दैनिक समाचार पत्र[/caption] आदि-अनादि काल से वैदिक ऋचाओं की जन्मदात्री उर्वरा धरा रही देवभूमि उत्तराखण्ड में पत्रकारिता का गौरवपूर्ण अतीत रहा है। कहते हैं कि यहीं ऋषि-मुनियों के…

विश्व व भारत में पत्रकारिता

विश्व व भारत में पत्रकारिता का इतिहास [gallery columns="4" ids="3036,3035,3034,3033,3032,3031,3030,3029,3028,3027,3026,3024"] मानव सभ्यता करीब 150-200 करोड़ वर्ष पुरानी मानी जाती है। उत्तराखंड के कालागढ़ के निकट मिले करीब 150 करोड़ वर्ष पुराने ‘रामा पिथेकस काल’ (Ramapithecus…

आस्था के साथ ही सांस्कृतिक-ऐतिहासिक धरोहर भी हैं…

इस तरह ‘जागर’ के दौरान पारलौकिक शक्तियों के वसीभूत होकर झूमते हें ‘डंगरिये’ कुमाऊं के जटिल भौगोलिक परिस्थितियों वाले दुर्गम पर्वतीय क्षेत्रों में संगीत की मौखिक परम्पराओं के अनेक विशिष्ट रूप प्रचलित हैं। उत्तराखंड के…

अधिवक्ता के बाद अब वरिष्ठ अधिवक्ता बनना भी…

वरिष्ठ अधिवक्ता का दर्जा हासिल करने को सुप्रीम कोर्ट के नए निर्देशों पर हाईकोर्ट के अधिवक्ताओं की बंटी राय -कुछ ने बताया पारदर्शिता बढ़ाने वाला तो कुछ ने प्रक्रिया को कठिन करने वाला नवीन जोशी,…

बिन पटाखे, कुमाऊं में ‘च्यूड़ा बग्वाल’ के रूप…

-कुछ ही दशक पूर्व से हो रहा है पटाखों का प्रयोग -प्राचीन लोक कला ऐपण से होता है लक्ष्मी का स्वागत और डिगारा शैली में बनती है महालक्ष्मी नवीन जोशी, नैनीताल। वक्त के साथ हमारे…

एलडीए: काम से अधिक नाकामियों के साथ मिली…

[caption id="attachment_8838" align="alignnone" width="300"] राष्ट्रीय सहारा, 16 नवम्बर 2017[/caption] -1984 में यूपी के तत्कालीन मुख्यमंत्री एनडी तिवारी की पहल पर वृहत्तर नैनीताल विकास प्राधिकरण से हुई थी शुरुआत, 1989 में तिवारी ने ही दिया एनएलआएसएडीए…

12 ज्योर्तिलिंगों में प्रथम ज्योर्तिलिंग है जागेश्वर, यहीं…

देवभूमि उत्तराखंड के कण-कण में देवत्व की बात कही जाती है। प्रदेश के अनेक धर्म स्थलों में एक भगवान शिव के प्रथम ज्योर्तिलिंग जागेश्वर के बारे में स्कंद पुराण के मानसखंड में कहा गया है-‘मा…

सच्चा न्याय दिलाने वाली माता कोटगाड़ी: जहां कालिया…

[embed]https://youtu.be/zfByg8CDQxE[/embed] नवीन जोशी, नैनीताल। कण-कण में देवत्व के लिए प्रसिद्ध देवभूमि उत्तराखंड में कोटगाड़ी (कोकिला देवी) नाम की एक ऐसी देवी हैं, जिनके दरबार में कोर्ट सहित हर दर से मायूस हो चुके लोग आकर…

18 सितम्बर 1880 : नैनीताल वालो जरा आँख…

वह मनहूस दिन….. ....आधिकारिक तौर पर 18 नवम्बर 1841 को नगर में आये एक अंग्रेज पीटर बैरन द्वारा नगर के रूप में बसायी गयी सरोवरनगरी नैनीताल में कम-कम करके भी 1880 तक नगर में उस…

जमरानी बांधः सरदार सरोवर की तरह 56 वर्षों…

[caption id="attachment_8219" align="alignnone" width="300"] राष्ट्रीय सहारा, 19 सितम्बर 2017[/caption] -1965 में बना था प्रस्ताव, 400 करोड़ रुपए खर्च होने के बावजूद नहीं लगा एक पत्थर भी नवीन जोशी, नैनीताल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 1965 में…

देवभूमि के कण-कण में देवत्व

आदि गुरु शंकराचार्य का उत्तराखंड में प्रथम पड़ाव: कालीचौड़ मंदिर [embed]https://youtu.be/EzTAxzrgjLY[/embed] देवभूमि के कण-कण में देवत्व होने की बात यूँ ही नहीं कही जाती। अब इन दो स्थानों को ही लीजिये, यह नैनीताल जिले में…