कुमाऊं के ब्लॉग व न्यूज पोर्टलों का इतिहास

(इस पोस्ट में यदि कुछ तथ्यात्मक सुधार अपेक्षित हों तो जरूर टिप्पणी के माध्यम से या ईमेल saharanavinjoshi@gmail.com के जरिये सुझाएँ ) कुमाऊं के ब्लॉग : ब्लॉगिंग को नये मीडिया का मुख्य आधार कहा जाता है, और वेब पत्रकारिता की शुरुआत सोशल मीडिया से भी पहले ब्लॉगिंग से ही मानी जाती है। निस्संदेह देश में […]

Continue Reading

एनएसए अजीत डोभाल को मानद उपाधि देगा कुमाऊं विश्वविद्यालय

25 विषयों में 400 के करीब शोध उपाधियों का भी हुआ अनुमोदन नैनीताल। कुमाऊं विश्वविद्यालय देश के ‘जेम्स बॉन्ड’ कहे जाने वाले राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल को इस वर्ष शीघ्र ही आयोजित होने वाले विवि के दीक्षांत समारोह में मानद उपाधि से नवाजेगा। दीक्षांत समारोह की तिथि श्री डोभाल एवं विश्वविद्यालय के चांसलर, उत्तराखंड के […]

Continue Reading

नैनीताल में अमेरिकियों ने भी खेली होली

रामलीला कमेटी हल्द्वानी के व्यास पंडित गोपाल दत्त भट्ट जी के अनुसार इस बार होली के लिए चीर बंधन 26 फरवरी 2018 एकादशी को 11:10 बजे से 12:16 बजे तक व होलिका दहन 1 मार्च 2018 7:10 बजे से 8:30 बजे तक होगा। नैनीताल। सरोवरनगरी नैनीताल में होली के आगाज के साथ अमेरिका के टैक्सास प्रांत […]

Continue Reading

इस बार समय से खिली ‘जंगल की ज्वाला’ संग मुस्काया पहाड़…

नवीन जोशी, नैनीताल। ‘…पारा भीड़ा बुरूंशी फूली रै, मैं ज कूंछू मेरी हीरू रिसै रै….’ देवभूमि उत्तराखण्ड के पहाड़ी जंगलों में पशु चारण करते ग्वाल बालों की जुबान पर यह गीत चढ़ने लगा है। कारण उनका प्यारा लाल, सुर्ख बुरांश का फूल खिलने लगा है। उत्तराखण्ड के राज्य वृक्ष पर लकदक खिला यह फूल सरोवरनगरी के […]

Continue Reading

केंद्रीय बजट से कुमाऊं में रेल लाइनों के विदयुतीकरण  का तोहफा, कायाकल्प होगा

-मुरादाबाद-काशीपुर-रामनगर, रामपुर-काठगोदाम, काशीपुर-लालकुआ तथा बरेली-लालकुआ रेल लाइनों का विदयुतीकरण  करने को मिली स्वीकृति -काठगोदाम व टनकपुर की लाउंड्री के गंदे पानी के रिसाइकिलिंग का प्लांट, कई उपरिगामी पथ भी बनेंगे  -रामपुर-काठगोदाम, मुरादाबाद-रामनगर, लालकुआं-काशीपुर व भोजीपुरा-लालकुआ के बीच रेल लाइनों के नवीनीकरण कार्यो को भी मिली स्वीकृति नवीन जोशी, नैनीताल। आगामी वित्तीय वर्ष 2018-19 के बजट […]

Continue Reading

जानें कुमाऊं-उत्तराखंड में कैसे मनाई जाती है बसंत पंचमी

कुमाऊं में ‘श्री पंचमी’, ‘सिर पंचमी’ व ‘जौं पंचमी’ के रूप में मनायी जाती है बसंत पंचमी सभी मित्रों को फूलों के इस त्योहार की बधाइयाँ। आपके जीवन में भी इसी तरह फूलों के रंग-बिरंगे रंग खिलें। -कुमाऊं में अलग उत्साह से मनाया जाता है ऋतुराज बसंत के आगमन का त्योहार नवीन जोशी, नैनीताल। कुमाऊं […]

Continue Reading

ग्लोबलवार्मिंग का प्रभाव ! दो माह पूर्व ही “काफल पाको पूसा…!!!” 🤔

नैनीताल। कुमाऊं के सुप्रसिद्ध लोकगीत ‘बेड़ू पाको बारों मासा, ओ नरैंण काफल पाको चैता’ में वर्णित व चैत यानी चैत्र माह के आखिर में पकना शुरू करने वाला और वास्तव में मई-जून की गर्मियों में शीतलता प्रदान करने वाला काफल (वानस्पतिक नाम मैरिका एस्कुलेंटा-Myrica esculenta) इस वर्ष संभवतया अपने इतिहास में पहली बार, कड़ाके की […]

Continue Reading

चंद राजाओं की विरासत है कुमाऊं का प्रसिद्ध छोलिया नृत्य

नवीन जोशी, नैनीताल। आधुनिक भौतिकवादी युग के मानव जीवन में सैकड़ों-हजारों वर्ष पुरानी कम ही सांस्कृतिक परंपराएं शेष रह पाई हैं। इन्हीं में एक आज कुमाऊं ही नहीं उत्तराखंड राज्य की सांस्कृतिक पहचान बन चुका प्रसिद्ध छल या छलिया और हिन्दी में छोलिया कहा जाने वाला लोकनृत्य है, जो कि मूलतः युद्ध का नृत्य बताया जाता है। […]

Continue Reading

नैनीताल विंटर कार्निवाल-2017: बॉलीवुड सिंगर जुबिन नौटियाल ने गाये उत्तराखंडी गाने

बॉलीवुड सिंगर जुबिन नौटियाल ने गाया अपनी उत्तराखंडी-जौनसारी बोली में गीत बॉलीवुड गायक जुबिन नौटियाल-एसएसपी ने गाए उत्तराखंडी गीत -नैनीताल विंटर कार्निवाल की आखिरी शाम एडीएम ने गाए गीत नैनीताल। सरोवनगरी में आयोजित हुए नैनीताल विंटर कार्निवाल में रविवार की आखिरी शाम यूं तो बॉलीवुड गायक जुबिन नौटियाल के ‘रिमिक्स स्टाइल’ कमोबेश चीखते हुए गाए […]

Continue Reading

वन्य पशु-पक्षियों का सर्वश्रेष्ठ गंतव्य-नैनीताल, कुमाऊं

नैनीताल जू में जर्मनी, इटली, उजबेकिस्तान से आएंगे हिम तेंदुए -साथ ही दार्जिलिंग से एक नर मारखोर व रेड पांडा भी लाने की चल रही है कोशिश -नस्ल सुधार के लिए ‘ब्लड एक्सचेंज’ यानी ‘रक्त बदलाव’ की प्रक्रिया के तहत पक्षियों व रेड पांडा की अदला-बदली करने की भी चल रही कोशिश नैनीताल। सरोवरनगरी स्थित […]

Continue Reading

उत्तराखण्ड की पत्रकारिता का इतिहास

आदि-अनादि काल से वैदिक ऋचाओं की जन्मदात्री उर्वरा धरा रही देवभूमि उत्तराखण्ड में पत्रकारिता का गौरवपूर्ण अतीत रहा है। कहते हैं कि यहीं ऋषि-मुनियों के अंतर्मन में सर्वप्रथम ज्ञानोदय हुआ था। बाद के वर्षों में आर्थिक रूप से पिछड़ने के बावजूद उत्तराखंड बौद्धिक सम्पदा के मामले में हमेशा समृद्ध रहा। शायद यही कारण हो कि […]

Continue Reading

कुमाऊं के लोक देवी-देवता

देवभूमि उत्तराखंड की दो में से से एक व पुरानी कमिश्नरी कुमाऊं अंचल की अपनी अनेक विशिष्टताएं हैं। उत्तर में उत्तुंग हिमाच्छादित नंदादेवी, नंदाकोट व त्रिशूल की सुरम्य पर्वत मालाएं, पूर्व में पशुपति नाथ व गोरखों की धरती नेपाल, पश्चिम में उत्तराखंड की दूसरी कमिश्नरी व चार धामों का गढ़ गढ़वाल तथा दक्षिण में मैदानी […]

Continue Reading

आस्था के साथ ही सांस्कृतिक-ऐतिहासिक धरोहर भी हैं ‘जागर’

इस तरह ‘जागर’ के दौरान पारलौकिक शक्तियों के वसीभूत होकर झूमते हें ‘डंगरिये’ कुमाऊं के जटिल भौगोलिक परिस्थितियों वाले दुर्गम पर्वतीय क्षेत्रों में संगीत की मौखिक परम्पराओं के अनेक विशिष्ट रूप प्रचलित हैं। उत्तराखंड के इस अंचल की संस्कृति में बहुत गहरे तक बैठी प्रकृति यहां की लोक संस्कृति के अन्य अंगों की तरह यहां […]

Continue Reading

बिन पटाखे, कुमाऊं में ‘च्यूड़ा बग्वाल’ के रूप में मनाई जाती थी परंपरागत दीपावली

-कुछ ही दशक पूर्व से हो रहा है पटाखों का प्रयोग -प्राचीन लोक कला ऐपण से होता है लक्ष्मी का स्वागत और डिगारा शैली में बनती है महालक्ष्मी नवीन जोशी, नैनीताल। वक्त के साथ हमारे परंपरागत त्योहार अपना स्वरूप बदलते जाते हैं, और बहुधा उनका परंपरागत स्वरूप याद ही नहीं रहता। आज जहां दीपावली का […]

Continue Reading

एलडीए-डीडीए : काम से अधिक नाकामियों के साथ मिली प्रोन्नति पर उठ रहे सवाल

राष्ट्रीय सहारा, 16 नवम्बर 2017 -1984 में यूपी के तत्कालीन मुख्यमंत्री एनडी तिवारी की पहल पर वृहत्तर नैनीताल विकास प्राधिकरण से हुई थी शुरुआत, 1989 में तिवारी ने ही दिया एनएलआएसएडीए का स्वरूप नवीन जोशी, नैनीताल। 1984 में पूर्ववर्ती उत्तर प्रदेश के तत्कालीन मुख्यमंत्री पं. नारायण दत्त तिवाड़ी की पहल पर ‘वृहत्तर नैनीताल विकास प्राधिकरण’ […]

Continue Reading