विधायक संजीव आर्य ने बेतालघाट के लिये खोली तिजोरी

राष्ट्रीय सहारा, 17 मई 2018

यह भी पढ़े : इस वर्ष को ‘रोजगार वर्ष’ के रूप में मना हर विभाग में नौकरियां खोलेगी त्रिवेंद्र सरकार

18 वर्ष के युवा शताब्दी मतदाताओं को सम्मानित करते उच्च शिक्षा मंत्री डा. धन सिंह रावत।p

-प्रदेश के सभी करीब 3 लाख कॉलेज छात्र-छात्राओं का निःशुल्क 2-2 लाख रुपए का बीमा कराएगी राज्य सरकार, ऐसा करने वाला पहला राज्य होगा उत्तराखंड
-प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री ने भाजयुमो के ‘लीड अप इंडिया’ कार्यक्रम में ‘शताब्दी मतदाताओ’ को सम्मानित करते किया दावा
नैनीताल। उत्तराखंड की त्रिवेंद्र रावत सरकार मौजूदा अगले वर्ष 2019 में होने वाले लोक सभा चुनावों के लिए चुनावी मोड में आने जा रही है।  इस वर्ष सरकार युवाओं को रोजगार देकर पार्टी की ओर आकर्षित करने व उनके भरोसे को बनाए रखने पर जोर देगी। इस कोशिश में सरकार का फोकस युवाओं के साथ आरक्षित वर्ग को साधना भी होगा।

प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री डा. धन सिंह रावत ने मुख्यालय में दो महत्वपूर्ण दावे किये। पहला, प्रदेश की त्रिवेंद्र रावत सरकार मौजूदा वर्ष 2018 को ‘रोजगार वर्ष’ के रूप में मना रही है। इस वर्ष सरकार प्रदेश के सभी विभागों में करीब 6000 रिक्त पदों पर नियुक्तियां निकालेगी। इन नियुक्तियों में आरक्षण का पूरा खयाल रखा जाएगा। दूसरा, राज्य के सभी डिग्री कॉलेजों व विश्वविद्यालयों के परिसरों में अध्ययनरत करीब 3 लाख छात्र-छात्राओं का राज्य सरकार 2-2 लाख का निःशुल्क बीमा कराएगी। हालांकि उन्होंने साफ नहीं किया, परंतु माना जा रहा है कि यह बीमा, ग्रुप दुर्घटना बीमा होगा। इतनी बड़ी संख्या में बीमा होने के कारण ऐसे बीमों की प्रीमियम प्रति व्यक्ति के हिसाब से कम ही होती है।

यह भी पढ़ें : 

डा. रावत ने यह बात मंगलवार 10 अप्रैल को नैनीताल क्लब के शैले हॉल में आयोजित भारतीय जनता युवा मोर्चा के ‘लीड अप इंडिया’ कार्यक्रम में ‘शताब्दी मतदाताओ’ को सम्मानित करते हुए अपने संक्षिप्त संबोधन में कही। इस दौरान नई सदी यानी वर्ष 2000 के बाद पैदा हुए एवं 18 वर्ष की आयु पूरी कर मतदान का अधिकार प्राप्त कर रहे करीब 250 युवाओं में से चुनिंदा को डा. रावत के हाथों एवं अन्य को अन्य नेताओं के हाथों प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। वहीं मुख्य वक्ता के रूप में भाजपा के प्रदेश महामंत्री गजराज बिष्ट ने युवाओं को संबोधित करते हुए भ्रष्टाचार एवं राष्ट्रप्रेम से जुड़े बिंदुओं पर भाजपा एवं कांग्रेस राज का फर्क समझाया। कहा कि भाजपा की जीत पर देश में भारत माता की जय और कांग्रेस की जीत पर ‘अररिया’ में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगते हैं। कहा कि केंद्र में मोदी व राज्य में त्रिवेंद्र सरकार भ्रष्टाचार के खिलाफ ‘जीरो टॉलरेंस’ की नीति पर चल रही हैं। अन्य वक्ताओं भाजयुमो प्रदेश अध्यक्ष कुंदन लटवाल, जिलाध्यक्ष नितिन कार्की, विधायक संजीव आर्य, प्रदेश महामंत्री गुंजन सुखीजा, भाजपा जिलाध्यक्ष प्रदीप बिष्ट, सचिन साह, गौरव पांडे, विकास भगत व शांति मेहरा आदि ने युवाओं से शिक्षित होने के नाते राजनीति को ठीक करने के लिए भाजपा से जुड़ने का आह्वान भी किया। कार्यक्रम में रवि कन्याल, जयवर्धन, शिप्रा जोशी, डा. अनिल डब्बू, गोपाल रावत, अरविंद पडियार सहित व मनोज जोशी सहित बड़ी संख्या में भाजपा और जिले भर से आये भाजयुमो सदस्य तथा नये मतदाता युवा शािमल हुए।

डिग्री कॉलेजों-परिसरों में तीन माह के भीतर मिलेंगी 100 फीसद पुस्तकें व प्रोफेसर

-प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री ने कुमाऊं विवि को 2 वर्ष के भीतर देश के शीर्ष 200 विवि में आने का दिया लक्ष्य
-नेट व सेट उत्तीर्ण अभ्यर्थियों के साथ ही पीएचडी उत्तीर्ण अभ्यर्थियों को भी दी जा सकती हैं नियुक्तियां
नैनीताल। प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री डा. धन सिंह रावत ने कुमाऊं विवि को अगले दो वर्ष के भीतर देश के शीर्ष 200 विश्वविद्यालयों में स्थान बनाने का लक्ष्य दिया है। कहा कि इस लक्ष्य की पूर्ति के लिए धन की कमी आढ़े नहीं आने दी जाएगी। इस लक्ष्य की पूर्ति की दिशा में अगले तीन माह में यानी करीब जुलाई-अगस्त तक कुविवि से सभी परिसरों व महाविद्यालयों में 100 फीसद पाठ्य पुस्तकें उपलब्ध कराने को कहा है, तथा अपनी ओर से प्राध्यापकों के पदों को 100 फीसद भरने का आश्वासन दिया। कहा कि नेट व सेट उत्तीर्ण अभ्यर्थियों के साथ ही पीएचडी उत्तीर्ण अभ्यर्थियों को भी नियुक्तियां दी जा सकती हैं। अलबत्ता नियुक्तियों में उन्होंने सभी तरह के जातिगत व विकलांगता आदि के आरक्षण प्राविधानो का खयाल रखने की बात भी कही। इसी कड़ी में उन्होंने कुमाऊं विवि के नैनीताल व अल्मोड़ा परिसरों में एक-एक स्मार्ट क्लास स्थापित करने के निर्देश भी दिये।
मंगलवार को कुविवि प्रशासनिक भवन मे कुलपति प्रो. डीके नौड़ियाल एवं अन्य उच्चाधिकारियों की बैठक लेते हुए डा. रावत ने यह बात कही। उन्होंने कुविवि के सभी विश्वविद्यालयों के परिसरों में आगामी 30 अप्रैल को दीक्षांत समारोह से पूर्व यूजीसी के नियमों के अनुसार बायोमैट्रिक हाजिरी लगाने व मानकों के अनुसार हर प्राध्यापक के लिए दिन में कम से कम 5 घंटे कॉलेज में रहना अनिवार्य करने को कहा। बताया कि राज्य ने रूसा में 400 करोड़ रुपए के प्रस्ताव दिये हैं। कुविवि की ओर से डा. महेंद्र बिष्ट ने रूसा से स्वीकृत 13.31 करोड़ से विवि प्रशासनिक भवन को ‘स्मार्ट ऑफिस’ में बदलने का प्रस्तुतीकरण दिया।

2 Replies to “विधायक संजीव आर्य ने बेतालघाट के लिये खोली तिजोरी”

  1. Pingback: writeaessay

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...